Pandraha Mukhi Rudraksha

60,000.00 51,000.00

-15%

पंद्रह मुखी रुद्राक्ष पन्द्रह तिथियों से संबंधित है. इस रुद्राक्ष को धारण करने से अपने सभी उद्यमों में सफलता प्राप्त होती है. उर्जा शक्ति द्वारा अपने सभी कार्यों में सफलता पाता है.इस रुद्राक्ष के पहनने वाला तीव्र बुद्धि को पाता . वह अपने ज्ञान द्वारा सभी को प्रभावित करने में सक्षम होता है. मान्यता है कि जब भगवान विश्वकर्मा सभी देवताओं के लिए हथियार बनाते हैं तो वह भगवान शिव से अपने इस कार्य में सफलता पाने का आशीर्वाद मांगते हैं तथा भगवान शिव प्रार्थना से प्रसन्न हो इन्हें आशीर्वाद के रूप में पंद्रह मुखी रुद्राक्ष प्रदान करते हैं. जो व्यक्ति लौह और रसायन के व्यापार में लगे हुए हैं उन लोगों के लिए यह पंद्रह मुखी रुद्राक्ष बहुत उपयोगी माना जाता है. यह रूद्राक्ष सभी संबंधों को पूर्ण करने में सहायक है.