Ganesha Rudraksha

600.00 551.00

-8%

गणेश रुद्राक्ष लाभ ( Benefits of Ganesha Rudraksha): भगवान गणेश का स्वरूप यह रुद्राक्ष सभी कलेशों का शमन करने वाला होता है. इस रुद्राक्ष को देखने पर प्रतीत होता है की इस रुद्राक्ष पर भगवान गणेश की आंशिक आकृति उभरी हुई है इसकी सतह पर बनी हुई सुंडनूमा आकृति से यह रुद्राक्ष गणेश भगवान का रूप दिखता है. विशेष फलदायी यह रुद्राक्ष कई समस्याओं का समाधान स्वत: ही कर देता है. इसे गणेश चतुर्थी के दिन धारण किया जाए तो यह और भी शुभ फलदायक होता है. गणेश रुद्राक्ष धारण से यह लाभ होते हैं. गणेश रुद्राक्ष को सोमवार के दिन धारण करना चाहिए इसे लाल धागे या सोने अथवा चांदी में धारण कर सकते हैं. प्राचीन वैदिक ग्रंथों के अनुसार यह पवित्र रूद्राक्ष सकारात्मक प्रभाव उत्पन्न करता है. गणेश रूद्राक्ष पहने हुए एक व्यक्ति को जीवन के सभी क्षेत्रों में से सफलता प्राप्त होती है. भगवान गणेश का आशीर्वाद मिलता है. व्यक्ति के जीवन में सभी बाधाओं को भगवान गणेश के आशीर्वाद से निवारण हो जाता है. भगवान गणेश भगवान शिव के पुत्र हैं इसलिए भगवान शिव का और देवी पार्वती (महा देवी) जी का भी आशिर्वाद प्राप्त होता है. केतु के हानिकर प्रभावों को भी भगवान का आशीर्वाद दूर कर देता है. गणेश रुद्राक्ष धारण करने की विधि ( Rudraksha Dharan Vidhi ): रूद्राक्ष को पूर्णिमा जैसे शुभ दिनों में धारण करने पर व्यक्ति के सभी पाप नष्ट हो जाते हैं. इसके अतिरिक्त ग्रहण में, संक्रांति, अमावस्या में धारण किया जाना चाहिए रुद्राक्ष का आधार ब्रह्मा जी हैं इसकी नाभि विष्णु हैं, इसके चेहरे रुद्र है और इसके छिद्र देवताओं के होते हैं. रुद्राक्ष के दिव्य गुणों से जीव दुखों से मुक्ति पा कर सुखमय जीवन जीता है तथा भगवान शिव की कृपा को पाता है.

Description

गणेश रुद्राक्ष भगवान श्री गणेश जी का प्रतिनिधित्व करता है. इस रूद्राक्ष की आकृति भी गणेश जी के जैसी प्रतीत होती है. इस लिए इस रुद्राक्ष पर सुंड के समान एक उभार भी होता है, यह रुद्राक्ष धारण करने से समस्त विघ्नों का नाश होता है तथा धन संपत्ति की प्राप्ति होती है. गणेश रुद्राक्ष को धारण करने से भगवान गणपति जी का आशीर्वाद प्राप्त होता है. इनके सानिध्य को पाकर व्यक्ति अपनी सभी समस्याओं से मुक्त हो जाता है और सभी प्रकार के सुखों को भोगता हुआ अंत में मोक्ष को प्राप्त करता है. बुद्धि ज्ञान को बढाने वाला यह रुद्राक्ष अच्छी कार्य क्षमता प्रदान करता है. इस रुद्राक्ष को पूजा स्थान में रखकर नियमित रुप से इसकी पूजा अर्चना करने से आपके सभी कष्ट समाप्त हो जाते हैं तथा अनेक मार्ग स्वत: ही खुल जाते हैं. भाग्य बढ़ाता है और सभी प्रयासों में सफलता मिलती है.